HDFC, SBI और ICICI Bank के खिलाफ सबसे अधिक शिकायतें, बैंकिंग सेक्टर में 1.85 लाख करोड़ रुपए के धोखाधड़ी के मामले

देश के बैंकिंग सेक्टर में साल 2019-20 में HDFC, SBI और ICICI Bank के खिलाफ सबसे ज्यादा शिकायतें आरबीआई को मिली थीं। जिसमे से कुल 84,545 मामले धोखाधड़ी के आए। इन सब मामलों में कुल 1.85 लाख करोड़ रुपए शामिल थे। यह जानकारी आरटीआई से सामने निकल के आयी है, RBI ने यह जानकारी दी है।

Advertisement

RBI के अनुसार SBI के खिलाफ कुल 63,259 शिकायतें मिली थीं। जबकि HDFC बैंक के खिलाफ 18,764 शिकायतें मिली थीं। ICICI आई बैंक के खिलाफ 14,582 शिकायतें ग्राहकों से मिलीं, जबकि PNB के खिलाफ 12,649 शिकायतें मिली थीं। Axis बैंक के खिलाफ ग्राहकों ने 12,214 शिकायतें की थीं। RBI ने कहा कि एक अप्रैल 2019 से 30 जून 2019 के बीच कुल 56,493 शिकायतें ग्राहकों की बैंकों के खिलाफ मिली थीं।

RBI के मुताबिक, 1 अप्रैल 2019 से 31 मार्च 2020 के दौरान सभी बैंकिंग सेक्टर में धोखाधड़ी से संबंधित सभी जानकारी मांगी गई थी। RBI ने दी गई सूचना में कहा कि देश में शेडयूल्ड कमर्शियल बैंकों और चुनिंदा वित्तीय संस्थानों द्वारा 2019-20 में 84,545 मामले धोखाधड़ी के सामने आए थे। इनमें कुल 185,772 करोड़ रुपए की राशि शामिल थी। हालांकि RBI ने यह जानकारी देने से मना कर दिया कि इस तरह के मामले में कितने बैंक कर्मचारी शामिल थे।

Advertisement

आपको ये भी बता दें की भारतीय रिजर्व बैंक ने कहा कि ज्यादातर मामलों में कर्मचारी भी शामिल रहे हैं। इसमें कुल 2,668 मामलों में 1,783 करो़ड़ रुपए शामिल था। एक जुलाई 2019 से मार्च 2020 के तहत इस तरह की कुल 214,480 शिकायतें मिली थीं।

भारतीय रिजर्व बैंक ने कहा कि 2019-20 के दौरान एक बैंक की दूसरी बैंक में कुल 438 शाखाओं को मिला दिया गया। इसमें SBI में 130 शाखाओं को मिलाया गया तो Central Bank Of India 62, Allahabad Bank की 59 शाखाओं को एक दूसरे से मिलाया गया। 2019-20 के दौरान बैंकों की कुल 194 शाखाएं बंद कर दी गईं। इसमें से SBI की 78 शाखाएं थीं जबकि फिनो पेमेंट्स बैंक की 25 शाखाएं थीं।

Advertisement

Share

Leave a Reply