ईरान में यूक्रेन का यात्री विमान दुर्घटनाग्रस्त 170 से अधिक लोगों की मौत

यूक्रेन इंटरनेशनल एयरलाइंस का बोइंग 737 विमान ईरान के इमाम खामेनेई हवाई अड्डे से उडान भरते ही दुर्घटनाग्रस्त हो गया । बोइंग 737 ने यूक्रेन की राजधानी कीएफ के लिए उडान भरी थी। जिसमें 170 से अधिक लोगों के सवार होने की सूचना है। जिसमें से सभी लोगों के  मारे जाने का समाचार है। विदेश मंत्री वादिम प्रस्ताएको का कहना है कि इस विमान में ईरान के 82 लोग, यूक्रेन के 11 लोग, कनाडा के 63 लोग, स्वीडन के 10 लोग और ब्रिटेन तथा जर्मनी के तीन-तीन लोग सवार थे ।

Advertisement

इस घटना के तुरन्त बाद ये क्यास लगाया जाने लगा कि अमेरिका ने इस विमान को तो नहीं मार गिराया क्यों कि इस समय ईरान और अमेरिका में युद्ध जैसे हालात बने हुए है लेकिन इस घटना के कुछ देर बाद ही तेहरान स्थित यूक्रेन के दुतावास का कहना है कि विमान दुर्घटना इंजन फेल होने के कारण हुयी है ना कि किसी हमले के कारण और इसका किसी प्रकार के आतंकवादी हमले से भी इन्कार किया । यूक्रेन की इंटरनेशनल एयरलाइन्स ने तेहरान आने वाली सभी उडानों को रद्द कर दिया है ।

ईरान और अमेरिका क्या करने वाले है, विमान हादसा है या हमला ?

Advertisement

इस समय जब अमेरिका और ईरान युद्ध के लिए दोनों आमने – सामने खडे हो और उसी समय ईरान मे एक बडा विमान हादसा का होना अपने आप में एक संशय को पैदा कर देता है। इस हादसे को लोग समझ नहीं पा रहे है भले ही यूक्रेन के दुतावास ने इसे एक तकनिकी गडबडी कहे लेकिन ये पूरी तरह से शक के घेरे में हैं। जब कि अमेरिका ने भी यह कह दिया है कि किसी परिस्थति में वो पिछे नही हटने वाला है यदि उसके किसी भी अमेरिकी ठिकाने को निशाना बनाया जाता है तो उसका मुहतोड जबाब देगा।

ईरान के सबसे बडे धार्मिक नेता का कहना है कि वो कासिम सुलेमानी के मौत को ऐसे जाया नहीं जाने देगें इसका वो बदला अमेरिका से लेकर रहेगें। ईरान तथा ईराक के साथ – साथ और भी खाडी के देशों में सुलेमानी के मौत के बाद अमेरिका के खिलाफ प्रर्दशन हो रहे है। और अमेरिका से बदला लेने की बात कह रहे है।

 

Advertisement

Share

Leave a Reply