विश्व स्वास्थ संगठन ने कोरोना वायरस को लेकर इंटरनेशनल हेल्थ इमरजेन्सी की धोषणा की

विश्व स्वास्थ संगठन ने कोरोना वायरस को लेकर बडी चिन्ता जताते हुए इसको  पूरे विश्व के लिए बहुत बडा खतरा बताते हुए इस वायरस को लेकर इंटरनेशनल हेल्थ इमरजेन्सी की धोषणा कर दी है। अभी तक मिली जानकारी के अनुसार चीन मे अब तक 360 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है और 17000 से अधिक लोग इस वायरस की चपेट मे आ चुके हैं।

Advertisement

चीन के वुहान शहर से फैला ये वायरस पूरे चीन को अपने आगोश मे ले रहा हैं। चीन के साथ साथ कोरोना वायरस विश्व के 18 से ज्यादा देशों मे अपना पैर फैला चुका है। इस मे अमेरिका , वियतनाम , हांगकाग, जापान ,थाइलैंड समेत और भी कई देश है।

चीन इस वायरस को लेकर बहुत ही तेजी से काम कर रहा है। इसका अंदाजा आप इस से लगा सकते है कि चीन ने मात्र 10 दिनों मे 1000 बेड का नया अस्पताल बना कर तैयार कर लिया है। क्यों कि कोरोना वायरस जिस रफ्तार से चीन मे अपने पैर फैला रहा है। वो बहुत ही खतरनाक स्तर को जल्द ही छुने वाला है ।

Advertisement

कोरोना वायरस की वजह से चीन से कई देशों की उडान बन्द कर दी गयी है या उस पर तत्काल रोक लगा दी गयी है। कोरोना संपूर्ण विश्व के लिए बहुत ही बडा खतरा बन चुका है। इस कारण से ही विश्व स्वास्थ संगठन ने कोरोना को लेकर इंटरनेशनल हेल्थ इमरजेन्सी  की धोषणा कर चुका है।

भारत ने भी अपने नागरिको को चीन से सुरक्षित निकालने के लिए शनिवार को एअर इंडिया के विशेष विमान से 324 लोगों को वहाँ से निकाला तो रविवार को एक दूसरे विमान से 330 लोगों को चीन से निकाला गया जिसमे भारत के 323 नागरिक थे तो 7 नागरिक मालदीव के थे। इसके लिए मालदीव के विदेश मंत्री ने भारत के प्रधानमंत्री और विदेश मंत्री के प्रति आभार व्यक्त किया । अभी की बात करे तो थाइलैंड मे कोरोना के 7 नये मामलों का पता चला है तो हांगकाग मे 17 लोगों मे इस वाय़रस की पुष्टि हो चुकी है। ये वायरस इतना खतरनाक है कि ये पुरे चीन मे महामारी की तरह फैल रहा है।

Advertisement

Share

Leave a Reply